मुखपृष्ठ  कहानी कविता | कार्टून कार्यशाला कैशोर्य चित्र-लेख |  दृष्टिकोण नृत्य निबन्ध देस-परदेस परिवार | फीचर | बच्चों की दुनिया भक्ति-काल धर्म रसोई लेखक व्यक्तित्व व्यंग्य विविधा |   संस्मरण | साक्षात्कार | सृजन स्वास्थ्य | साहित्य कोष |

 

 Home | Boloji | Kabir | Writers | Contribute | Search | Fonts | FeedbackContact | Share this Page!

 Click & Connect : Prepaid International Calling Cards 

 
चैनल्स  

मुख पृष्ठ
कहानी
कविता
कार्यशाला
कैशोर्य
चित्र-लेख
दृष्टिकोण
नृत्य
निबन्ध
देस-परदेस
परिवार
फीचर
बच्चों की दुनिया
भक्ति-काल धर्म
रसोई
लेखक
व्यक्तित्व
व्यंग्य
विविध
संस्मरण
साक्षात्कार
सृजन
स्वास्
थ्य
साहित्य कोष
 

   

 

 

 


प्रेमचंद गांधी

 

जयपुर में 26 मार्च, 1967 को जन्म।
प्रकाशन : दो कविता संग्रह ‘इस सिंफनी में’ और ‘चांद के आईने में’
एक निबंध संग्रह ‘संस्कृंति का समकाल’
अनुवाद 'विश्व की प्रेमकथाएं' प्रकाशित।
समसामयिक और कला, संस्कृति के सवालों पर निरंतर लेखन। कई नियमित स्तंभ लिखे। सभी पत्र-पत्रिकाओं में रचनाएं प्रकाशित। कविता के लिए लक्ष्म‍ण प्रसाद मण्डलोई और राजेंद्र बोहरा सम्मा‍न। अनुवाद, सिनेमा और सभी कलाओं में गहरी रूचि। विभिन्न सामाजिक आंदोलनों में सक्रिय भागीदारी। कुछ नाटक भी लिखे। रामकथा के स्त्रीपाठ पर आधारित संगीतमय नाटक 'सीता लीला' बहुचर्चित। टीवी और सिनेमा के लिए भी काम किया। दो बार पाकिस्तान की सांस्कृतिक यात्रा।
 

 

 कहानियाँ

अंधेरों से आती आवाज़ें
गिल्टी मिथ

   

 


 

मुखपृष्ठ  |  कहानी कविता | कार्टून कार्यशाला कैशोर्य चित्र-लेख |  दृष्टिकोण नृत्य निबन्ध देस-परदेस परिवार | बच्चों की दुनिया भक्ति-काल धर्म रसोई लेखक व्यक्तित्व व्यंग्य विविधा |  संस्मरण | साक्षात्कार | सृजन साहित्य कोष |
प्रतिक्रिया पढ़ें! |                         प्रतिक्रिया लिखें!

HomeBoloji | Kabir | Writers | Contribute | Search | Fonts | FeedbackContact

(c) HindiNest.com 1999-2016 All Rights Reserved. A Boloji.com Website
Privacy Policy | Disclaimer
Contact : manishakuls@gmail.com